corona virus 2020 : अगर किसी में नजर आएं ये symptoms तो immediately करें डॉक्टर से संपर्क, ऐसे करें कोरोना वायरस की पहचान

Corona virus 2020 : पूरी दुनिया में कोरोना वायरस पैर पसार चुका है। दुनिया भर में कोरोना वायरस से लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। भारत में भी कोरोना के 17 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

कोरोना की कोई वैक्सीन न मिलने की वजह से इसका सिर्फ एक ही उपाय है वो है सामुदायिक दूरी और इसके लक्षण पता चलते ही तुरंत अस्पताल जाएं और अपनी जांच कराएं। अब सवाल ये हैं कि इसके लक्षण को पहचानें कैसे। तो चलिए कोरोना के कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में आपको बताते हैं जिससे आप इसकी सही समय पर पहचान कर सकते हैं।

कोरोना वायरस के लक्षण (corona virus 2020)

आमतौर पर कोरोना के लक्षण Coronavirus symptoms नॉर्मल वायरल जैसा है। लेकिन फिर भी इसे पहचाना जा सकता है, जैसे तेज बुखार। अगर बुजुर्गों और वयस्कों में 100 डिग्री से अधिक शरीर का तापमान होता होता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

corona virus 2020

WHO के मुताबिक 88 फीसदी लोगों को कोरोना वायरस में बुखार, 68 फीसदी लोगों को खांसी और बलगम, 38 फीसदी लोगों को थकान और 18 फीसदी लोगों को सांस लेने में दिक्कत, 14 फीसदी लोगों को बदन और सिर में दर्द, 11 फीसदी लोगों को ठंड और 4 फीसदी लोगों में डायरिया जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं।

कोरोना से कैसे बचा जाए

कोरोना वायरस एक ऐसी महामारी है जिसकी भी तक कोई वैक्सीन नहीं बन पाई है। इसीलिए ये पूरी दुनिया के लिए मुसीबत बन गई है। हालांकि कुछ उपाय ऐसे हैं जिससे कोरोना (corona virus 2020) से बचा जा सकता है।

हेल्थ मिनिस्ट्री की जारी की गई गाइडलाइन्स को अगर फॉलो किया जाए तो कोरोना को बहुत ही आराम से मात दी जा सकती है। जैसे बार-बार हाथों को साबुन से 20 सेकंड तक धोना या सैनिटाइज करना, खांसते या छींकते समय नाक और मुंह को रुमाल का किसी और चीज से ढके रखना.

वहीं, बाहर निकलते वक्त मास्क पहनना, घर से बाहर न निकलना, जिन लोगों को कोल्ड, कफ, बुखार या सांस लेने में दिक्कत जैसी परेशानी हो रही हो उनसे दूरी बनाकर रहना, नॉनवेज से परहेज, जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें और सबसे बड़ी बात सामुदायिक दूरी का खास ख्याल रखें।

किसी भी व्यक्ति से 6 मीटर की दूरी बनाकर रखे। इन सभी बातों का अगर आप ध्यान रखेंगे तो आप कोरोना से सुरक्षित बचे रह सकते हो।

कोरोना वायरस के लिए यहां करें Contact

सरकार की तरफ से एडवाइजरी भी जारी की गई है। जिसमें कहा गया है कि अगर किसी में भी कोरोना के लक्षण नजर आएं तो कंट्रोल रूम को सूचना दें।

बता दें कि कोरोना (corona virus 2020) से जुड़ी जानकारी के लिए सरकार की तरफ से एक कंट्रोल रुम बनाया गया है जो 24 घंटों उपलब्ध रहता है।

इसके लिए एक हेल्पलाइन नंबर भी शेयर किया गया है। 011-23978046 साथ ही आप मेल करके भी सरकार को जानकारी दे सकते हैं। मेल आईडी है ncov2019@gmail.com साथ ही आप इस पर कोरोना से जुड़ी कोई भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

कैसे किया जाता है Coronavirus का Test

जिस किसी में भी कोरोना के लक्षण नजर आते हैं। उसका सैंपल कलेक्ट किया जाता है। जो कि अलग अलग तरह के होते हैं।

1. Swab test

इस टेस्ट के लिए खास कॉटन स्वैब के जरिए मरीज के गले और नाक के लिए सैंपल लिए जाते हैं .

2.Nasal aspirate

इसमें नाक में एक सैलाइन सोल्यूशन डाला जाता है। फिर बाद में सक्शन के जरिए सैंपल को निकाला जाता है।

3.Tracheal aspirate

इस प्रक्रिया में एक पतली सी ट्यूब को फेफड़ों में डाला जाता है। जिसे ब्रोंकोस्कोपी भी कहते हैं। फेफड़ों में इस नली से सैंपल कलेक्ट किया गया है।

4. Sputum test

इस प्रक्रिया में मरीज का स्पुटम का सैंपल कलेक्ट किया जाता है। दरअसल स्पुटम एक mucus वैरिएशन होता है जो कि फेफड़ों में होता है। जिसे खांसने और फिर स्वैब से नाक के जरिए निकाला जाता है। इसमें मरीज से तेज सांस लेने को कहा जाता है।

5. Blood test

ये तो सभी को पता है। इसमें मरीज की जांच के लिए ब्लड कलेक्ट किया जाता है। जैसे किसी भी जांच के लिए होता है।

6. Specialized Gene sequencing test

साथ ही कोरोना वायरस की जांच के लिए एक specialized gene sequencing test किया जाता है जिससे ये साफ हो पाता है मरीज कोरोना वायरस से संक्रमित है या नहीं।

कब कराएं Corona virus का Test

आम तौर पर स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से कहा गया है कि ये समय वायरल का है। लेकिन अगर किसी को सूखी खांसी, जुकाम, गले में दर्द, बदन में दर्द, सांस लेने में ज्यादा दिक्कत, थकान और बुखार होता है तो बिना देर किए किसी भी डॉक्टर से परामर्श लें। डॉक्टर के कहे अनुसार आप टेस्ट कराएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *