Satta matka: जानिए कैसे चलता है सट्टा मटका का काला कारोबार, जानिए सबकुछ

Satta matka: सट्टा या जुआं भारत के अंदर खेले जाने वाले प्रचलित खेलों में से एक है. 21वीं शताब्दी के दौरान देश में इस खेल को हर वर्ग के लोग खेलते हैं. दिलचस्प बात ये है कि भारत में इस खेल के गैरकानूनी होने के बावजूद भी इसे खूब खेला जाता है. सट्टा या जुआं का लोगों में क्रेज इतना ज्यादा है कि देश में सट्टा का व्यापार 50 अरब डॉलर का है. ऐतिहासिक आधार पर भी देश के राजा-रजवाड़े इस खेल में खूब दिलचस्पी रखते थे. राजा महाराजाओं के समय से इस खेल काफी धन लगाया जाता था. सट्टे के इस खेल में सबसे प्रचलित खेल सट्टा मटका (Satta Matka) रहा है.

सदियों पहले से मटके में पर्चियां रखकर इस खेल को खेला जाता है. ब्रिटिश सरकार से आजाद होने के बाद इस खेल को भारत में बैन कर दिया गया. सट्टा मटका (Satta Matka) के गैरकानूनी होने के बावजूद भी इस खेल के प्रति लोगों की उत्सुक्ता में कोई कमी नहीं आई. हालांकि इस खेल में पैसों के डूबने का रिस्क बहुत होता है. लेकिन खेल में सफल जीत हासिल करने वाले खिलाड़ी को फायदा भी उनता ज्यादा ही होता है. इसलिए इस खेल की तरफ लोग ज्यादा आकर्षित होते हैं.

सट्टा मटका की शुरुआत– satta matka history

मटका सट्टा की शुरुआत काफी पुरानी है. राजाओं-महाराजाओं के समय से खेले जाने वाले इस खेल का प्रचलन उस समय बहुत था. उस समय इसे पारंपरिक तरीके से खेला जाता था. सट्टा मटका (Satta Matka) खेल के उत्साह का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि राजा-महाराजा अपना पूरा राजपाठ सट्टा मटका में लगा दिया करते थे. उस समय तकनीकी का प्रभाव इतना ज्यादा नहीं था, जिसके चलते इसकी सट्टा मटका (Satta Matka) खेलने की पद्धति भी अलग हुआ करती थी.

satta matka india
courtsey-google images

सट्टा मटका (Satta Matka) खेलने के लिए पहले एक मटके के अंदर ढेर सारी पर्चियां डाल दी जाती थी. फिर, इन पर्चियों में से राजा कोई एक पर्ची का चुनाव करता था. जिस खिलाड़ी की पर्ची सही आती थी वो विजेता कहलाता था. इस खेल में मटके का उपयोग किया जाता था जिसके चलते बाद में इसका नाम मटका सट्टा रख दिया गया.

ऐसा कहा जाता है कि इस खेल में राजा महाराजा अपना साम्राज्य बढ़ा लिया करते थे. हार-जीत का रिस्क इस गेम सट्टा मटका (Satta Matka) में बहुत ज्यादा होता है. इसलिए मुनाफा-घाटा भी बहुत ज्यादा झेलना पड़ता है.

Satta Matka Online – कैसे खेला जाता है सट्टा मटका? 

दुनिया तकनीकी के मामले में तरक्की कर रही है. मटके में पर्ची रखकर खेले जाने वाला ये गेम भी समय के साथ बदल गया. डिजिटल इंडिया के दौर में इस गेम को ऑनलाइन खेला जाता है. वेबसाइट, ऐप और व्हाट्सएप जैसे सोशल नेटवर्क के जरिए इसे खूब खेला जाता है. चुनिंदा व्यवसायी चोरी-छिपे इस खेल को संचालित करते हैं. सट्टा खेलने वाले सटोरी इसे चोरी-छिपे खेलते हैं.

पुलिस और प्रशासन की नजरों से छुपकर खेले जाने वाला ये गेम संख्याओं का गेम होता है. खिलाड़ी को कई संख्याओं में से कोई एक संख्या का चुनाव करना होता है. उस संख्या पर खिलाड़ी शर्त लगाता है. अगर कोई खिलाड़ी सही संख्या का चुनाव करता है तो उसे विजेता घोषित कर दिया जाता है. मटका सट्टा जीतने वाले खिलाड़ी को सारी धनराशि दे दी जाती है. विजेता खिलाड़ी को सट्टा किंग satta king कहा जाता है.

Famous सट्टा मटका 2018

देश में प्रशासन की नाक के नीचे कई सट्टा मटका गेम खेले जाते हैं. तकनीकि का साथ पाकर ये गेम ऑनलाइन और ऑफलाइन या सोशल नेटवर्क के जरिये खूब फल-फूल रहा है. सट्टा मटका (Indian Satta Matka) की दुनिया में कल्याण और वर्ली सट्टा मटका (worli satta matka) खेल सबसे ज्यादा प्रचलित है. कल्याण मटका (Kalyan matka) की शुरुआत गुजरात के एक किसान ने सन् 1962 में की थी. इस खेल की शुरुआत करने वाले शख्स का नाम कल्याणजी भगत था.

वहीं, वर्ली मटका की शुरुआत 1964 में रतन खत्री द्वारा की गई थी. रतन खत्री का मटका सप्ताह में सिर्फ 5 दिन ही चलता है. लेकिन कल्याणजी सट्टा मटका सातों दिन खेला जाता है. इस खेल का मुख्य सरगना महाराष्ट्र के आसापास ही रहता है. सालों से चल रहे इस सरगना को पुलिस अभी तक पकड़ने में नाकाम रही है. चूंकि ये खेल गैरकानूनी है तो इसे ज्योतिषि या किसी अन्य नाम देकर खेला जाता है. चूंकि ये अलग-अलग नामों से खेला जाता है इसलिए इसके टर्म भी अलग हैं.

मटका खेल में इस्तेमाल होने वाले टर्मSatta Matka 2018

टर्म मिनिंग
मटका मिट्टी का बना बर्तन, पुराने समय में इसमें पर्चियां डालने का प्रचलन था
सिंगल 0-9 के बीच की कोई भी संख्या
जोड़ी/पेयर 00-99 के बीच की कोई भी संंख्या
पत्ती/पन्ना तीन नंबरों की संख्या
ओपन रिजल्ट/क्लोज रिजल्ट मटका जुएं का नतीजा
बेरिज जोड़ी के कुल जमा के अंतिम अंक

फेमस सट्टा मटका मार्केट – Satta Matka Guessing website

मटका सट्टा की दुनिया में कई तरह की कंपनियां गैरकानूनी रूप से गेम खिलाती हैं. जैसे Milan Day, Rajdhani Day, Time Bazar, Supreme Day, Milan Night, Rajdhani Night, Supreme Night, Bombay Bazar, Kalyan Night, Worli Day, Main Mumbai Day, Super Kalyan, Kuber Morning, Sagar Day, Sagar Night, Bhagyalaxmi, Kamal Day आदि कई प्रमुख मटका गेम हैं।

Satta Matka trick Website – ये वेबसाइट्स खिलाती हैं सट्टा मटका

बाजार में बहुत सारी वेबसाइट्स हैं जो सट्टा से जुड़ी जानकारियां मुहैया कराती है. सट्टा मटका से जुड़ी हर जानकारी मुहैया करवाने के लिए वेबसाइट्स के साथ कुछ ऐप्स भी हैं. ये सारे प्लेटफार्म सटका मटका के रिजल्ट लाइव दिखाते हैं.

वहीं कुछ ऐप सट्टा मटका (Indian Satta Matka) के नतीजों को पहले ही निकाल देते हैं. इन वेबसाइट्स का आकलन इतना सटीक होता है कि सट्टा मटका खेलने वाले सटोरी को जीत दिला देती हैं. ये वेबसाइट्स और एप्स सट्टा मटका से जुड़े महत्वपूर्ण अंकों का आंकलन (Satta Matka Result) पहले से ही कर लेते है.

जिससे विजेता की जीत की उम्मीद बढ़ जाती हैं. सट्टा मटका खेलने के लिए कुछ वेबसाइट्स और एप्स लिंक्स और टाइमिंग की जानकारी भी मुहैया कराती है. सट्टा खेलने वाले लोग इन वेबसाइट्स के जरिए गेम खेलते हैं.



डिस्क्लेमर: इस खबर का उद्देश्य सिर्फ आपको खबरों से अपडेट रखना है। हम किसी भी तरह से सट्टा/ जुआ या इस तरह की गैर-कानूनी गतिविधियों को प्रोत्साहित नहीं करते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *