Gupt Navratri 2019 : गुप्त नवरात्रि में होगी हर मनोकामना पूरी, जानिए क्या है पूजा करने का सही तरीका

Gupt Navratri 2019 (गुप्त नवरात्रि)/Tantra Sadhna, Puja Vidhi /: 5 फरवरी को माघ महीने के पहले मंगलवार पड़ रहा है. माघ महीने के पहले मंगलवार के दिन ही गुप्त नवरात्र की शुरुआत हो रही है. गुप्त नवरात्रि में आप मां से अपनी कोई भी गुप्त इच्छा हासिल कर सकते हैं. माघ का मंगलवार से शुरु होने का योग कई सालों में बन पाता है. इस बार गुप्त नवरात्र के दिन माघ महीने का ये योग पड़ रहा है. इस अद्भुत योग की शुरुआत शुक्ल पक्ष से शुरू हुई है.

courtsey-google images

वहीं अर्ध कुंभ मेला भी चल रहा है. इन सारे योग के साथ चंद्र देव कुंभ राशि में प्रवेश कर चुके हैं. कुदरत का ऐसा योग कई सालों में एक बार बन पाता है. इस दिन धनिष्ठा नक्षत्र हैमां मंगला की आराधना की जाती है. अगर आपकी कोई भी इच्छा हो तो गुप्त मनोकामना के जरिए आप उसे पा सकते हैं. आज के दिन सच्ची श्रद्धा से पूजा पाठ करने से धन, यश, सुख और जीवन में शांति मिलती है.

क्या है गुप्त नवरात्रि

बता दें कि एक साल में 4 बार नवरात्र होते हैं. पहला नवरात्र चैती नवरात्रि के नाम से जाना जाता है जबकि दूसरे नवरात्रि को आश्विन नवरात्रि के नाम से जाना जाता है. इन दो नवरात्रि के अलावा दो गुप्त नवरात्र भी होते हैं. इन्हें माघ गुप्त नवरात्रि और आषाढ़ गुप्त नवरात्रि बोला जाता है. गुप्त नवरात्रि के दौरान दुर्गा माता की रात के समय गुप्त तरीके पूजा की जाती है. ज्योतिष वैज्ञानिकों का मानना है कि इस दौरान दुर्गा माता गुप्त तरीके से भक्तों की सारी मनोकामनाएंं पूरी कर देती हैं. फिर चाहे धन, यश, सुख, शांति ही क्यों ना हो.

courtsey-google images

कैसे करें पूजा

गुप्त नवरात्रि के दौरान मां दुर्गा की देर रात के समय पूजा की जानी चाहिए. मां दुर्गा की पूजा के लिए लाल सिंदूर, लाल चुन्नी, नारियल, केले, सेब, तिल के लड्डू, बताशे और लाल गुलाब चढ़ाए जाने चाहिए. इसी के साथ माता की चौकी पर सरसों के तेल का एक दीपक भी  जलानाकर ”ॐ दुं दुर्गायै नमः”  मंत्र का जाप करना चाहिए. अपनी श्रद्धानुसार 8 सिक्कों का दान करने से घर में कभी धन की कमी नहींं पड़ती है.

jitendra pal:
Leave a Comment

This website uses cookies.