Coronavirus Lockdown 2.0 : कोरोना संकटकाल में Online Food delivery में गिरावट, ऑर्डर में 30 प्रतिशत की आई कमी

Coronavirus Lockdown 2.0 : लॉकडाउन का असर हर किसी के काम धंधे पर पड़ा है। दिहाड़ी मजदूर जहां पलायन को मजबूर हैं तो वहीं पिज्जा डिलीवरी ब्वॉय के कोरोना से ग्रसित होने की खबर के बाद पिज्जा की डिलीवरी में काफी गिरावट आई है।

सिर्फ पिज्जा ही नहीं सभी ऑनलाइन खाने की डिलीवरी की कुल मिलाकर बात की जाए जो पिछले 24 घंटे में खाना, ग्रॉसरी, पिक अप और ड्रॉप सर्विसेज में करीब 30 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई है।

एक डिलीवरी स्टार्ट-अप के मालिक के मुताबिक डिलीवरी ब्वॉय के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद ऑनलाइन फूड डिलावरी में काफी कमी आई है। जो कि 30 प्रतिशत तक नीचे गिर गई है।

Online Food delivery corona virus lockdown
courtsey-google images

दूसरे डिलीवरी फर्म में काम करने वाले कर्मचारी ने कहा कि दिल्ली में ये मामला सामने आने के बाद उसके आस पास के इलाके में भी असर पड़ा है। खासतौर पर पिज्जा की डिलीवरी (Coronavirus Lockdown 2.0) पर फर्क पड़ा है। लोग पिज्जा नहीं मंगा रहे हैं।

इससे पहले लॉक डाउन में भी पिज्जा की डिलीवरी जारी थी। लोग जमकर पिज्जा ऑर्डर कर रहे थे। अब ये मामला सामने आने के बाद लोग सतर्क हो गए हैं और ऑर्डर नहीं कर रहे। हालांकि ये भी उम्मीद है कि आगे चलकर सब कुछ ठीक हो जाएगा और डिलीवरी में फिर से रफ्तार आएगी।

coronavirus lockdown 2.0 : अलग-अलग फर्म की अलग राय

लॉक डाउन से पहले Swiggy के डिलीवरी ऑर्डर में 50-70 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई थी  लेकिन लॉकडाउन के पहले हफ्ते में ही ऑनलाइन ऑर्डर में 80 प्रतिशत की एकदम से गिरावट आ गई।

इस पर ऑनलाइन फूड डिलीवरी  Zomato के प्रवक्ता ने कहा कि ऑर्डरों का वॉल्‍यूम हर दिन फ्लक्‍चुएट हो रहा है। हम अपने ग्राहकों से अनुरोध कर रहे हैं कि वे तभी (Coronavirus Lockdown 2.0) ऑर्डर करें जब उन्‍हें इसकी बहुत जरूरत हो।

हालांकि, swiggy की तरफ से इस बारे में कुछ भी नहीं कहा गया है। जबकि स्‍टार्टअप फर्म Dunzo के प्रवक्‍ता ने कहा कि जहां तक ऑर्डरों का सवाल है तो अभी बिजनेस पहले की तरह हो रहा है।

वहीं, बेंगलुरु की एक डिलीवरी स्‍टार्टअप फर्म के अधिकारी ने कहा कि ”ग्रॉसरी के ऑर्डरों पर इतना असर नहीं पड़ा है, लेकिन, पिछले एक दिन में खाने-पीने के ऑर्डरों पर सीधा असर हुआ है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *