Bullet Train : आसान नहीं है दिल्ली-वाराणसी बुलेट ट्रेन की राह, रेलवे ने कह दी बड़ी बात, पढे़ं पूरी ख़बर

Bullet Train

Bullet Train : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट इस समय चर्चा में है। मुंम्बई और अहमदाबाद के बीच इस प्रोजेक्ट पर काम चल रहा है। इस दौरान एक खबर आई थी कि दिल्ली को वाराणसी से जोड़ने वाले इस प्रोजेक्ट के अव्यावहारिक होने की जिसके बाद रेल मंत्रालय ने बयान जारी करके इसे खारिज कर दिया है। रेल मंत्रालय विस्तृत DPR पर विचार कर रहा है। दिल्ली से वाराणसी के प्रोजेक्ट पर एक रिपोर्ट में दिल्ली में भी चर्चा की गई है।

बुलेट ट्रेन के लिए चाहिए सीधा ट्रैक

रिपोर्ट में ये प्रस्ताव है कि हाईवे-2 के साथ किया जाएगा। इसके लिए सस्ती ज़मीन के अधिग्रहण में भी मदद मिलेगी और इसकी लागत भी कम होगी।नेशलन हाईवे-2 पर दिल्ली और वाराणसी के बीच कई जगह गोलाकार सड़क है।

जहां पर ट्रेन को 350 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलाना काफी मुश्किल होगा। 350 किलोमीटर की रफ्तार से ट्रेन को चलाने के लिए रास्ता एकदम सीधा होना चाहिए। रेल मंत्रालय ने अपने बयान में कहा है कि अभी डीपीआर पर कोई निर्णय नहीं लिया गया है। उन्हें इसकी रिपोर्ट को लेकर कोई समस्या भी नहीं है। NHSRCL ने परियोजना को अंतिम रूप भी दे दिया है और रेलवे बोर्ड को सौंप भी दिया है।

इन जगहों से होकर गुज़रेगी बुलेट ट्रेन

बुलेट ट्रेन का रूट जो प्रस्तावित है वो ग्रेटर नोएडा, आगरा, लखनऊ, प्रयागराज और वाराणसी से गुज़रेगा। इसके लिए रेल मंत्रालय का मंथन जारी है। जो खबरे चल रही थी कि इसके रूट को लेकर कुछ समस्या है तो ऐसा बिलकुल नहीं है ये बात रेलवे बोर्ड ने साफ कर दी है। हां कुछ ट्रैक को लेकर समस्या है जिसका समाधान निकाला जा रहा है। ऐसे में बहुत जल्द आपका बुलेट ट्रेन में बैठने का सपना पूरा होने वाला है अब बस कुछ ही समय का इंतज़ार है।