Deprecated: Invalid characters passed for attempted conversion, these have been ignored in /home/u410788667/domains/independentnews.in/public_html/wp-content/plugins/wp-rocket/inc/vendors/ip_in_range.php on line 108
Shamli Haryana Expressway : शामली से हरियाणा के बीच की दूरी होगी कम, 'भारत माला परियोजना' के तहत बनेगा 6 लेन का नेशनल हाईवे - INDEPENDENT NEWS

Shamli Haryana Expressway : शामली से हरियाणा के बीच की दूरी होगी कम, ‘भारत माला परियोजना’ के तहत बनेगा 6 लेन का नेशनल हाईवे

Shamli Haryana Expressway : शामली से हरियाणा के बीच की दूरी होगी कम, ‘भारत माला परियोजना’ के तहत बनेगा 6 लेन का नेशनल हाईवे

Shamli Haryana Expressway : केंद्र सरकार की एक और बड़ी योजना सामने आ रही है जिसमें रिंग रोड के बाद भारत माला योजना के तहत छह लेन का ग्रीन फील्ड कॉरिडोर प्रोजेक्ट शुरू होने जा रहा है। यूपी को सीधे ट्राईसिटी मतलब चंडीगढ़ से सीधा जोड़ने की योजना है। आपको बता दें कि यूपी के शामली के अंबाला तक लगभग 110 किमी. लंबे नेशनल हाईवे का निर्माण किया जाना है। इसके लिए अंबाला के साहा, बराड़ा, मुलाना, कैंट के 56 गांवों के खेतों में नया नेशनल हाईवे निकलेगा।

2024 तक प्रोजेक्ट पूरा होगा

साल 2024 तक इस प्रोजेक्ट को पूरा करने लिए दिन-रात कार्य किया जा रहा है। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ हरियाणा के लाडवा, जगधरी, रादौर, सरस्वतीनग, इंद्र तहसील क्षेत्र से होकर छह लेन नेशनल हाईवे पर लगभग 4 हज़ार करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। हाईवे को बनाने के लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने लिए तकनीक अथॉरिटी के अधिकारियों के साथ ज़मीन को अधिगृहित कर ने के लिए अंबाला, यमुनानगर, करनाल के साथ कुरुक्षेत्र में ज़मीन के लिए तैयारी चल रही है। शामली ज़िले से अंबाला पहुंचने वाले 6 मार्गीय ये परियोजना रिंग रोड पर आकर मिलेगी।

Shamli Haryana Expressway : शामली से हरियाणा के बीच की दूरी होगी कम, 'भारत माला परियोजना' के तहत बनेगा 6 लेन का नेशनल हाईवे 1
Photo by Adam Grabek on Unsplash

नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने इस कार्य योजना के बीच में पड़ने वाले वन विभाग, बिजली विभाग सहित अन्य सरकारी विभाग को लेटर लिखकर उनकी संपत्तियों का ब्योरा मांगा है। साथ ही यटिलिटी टीम का गठन भी किया है। इन विभागों की इकाइयों को दूसरे स्थान पर शिफ्ट करने में आने वाली लागत का पता किया जा रहा है। वन विभाग को बताना है कि कितने पेड़ काटने हैं। बिजली विभाग को ये जानकारी देनी है कि बीच में कितने बिजली के पोल है।

इन ज़िलों से गुजरेगा एक्स्प्रेस-वे

अंबाला शहर के सद्दोपुर, पंजोखरा, अंबाला छावनी के रामगढ़ उर्फ शरीफपुर, रतनहेड़ी, पिलखनी, कपूरी, खुड्डी, साहा के मिट्ठापुर, समलेहड़ी, तेपला, हरियोली, हरड़ा, रामपुर, घसीटपुर, टोबा, हेमा, माजरा, पपलौथा, कालपी, नौहनी, मौजगढ़, राजौली, केसरी, छापरा, फोक्सा, मनू, माजरा, तलरेडी रंगरान, थंबड़, अधोया हिंदवान, दादुपर, तंदवाली, अधोया मुसलमान, अधोई, दहिया माजरा, बराड़ा, के सज्जन माजरी, दादपुर, चहल माजरा, सरकपुर, रजौली, राजोखेड़ी, तंदवाल, पट्टी बखेरु और घेलड़ी गांव के खेतों से होकर हाईवे निकलेगा। 110 किलोमीटर लंबे इस नेशनल हाईवे पर सिर्फ 4 जगहों पर ही वेसाइड एमिनिटी बनाया जाएगा। जहां आपको पेट्रोल, CNG पंप, रेस्टोरेंट और शौचालय उपलब्ध रहेंगे। आपको बता दें कि शौचालय की सुविधा बिल्कुल फ्री रहेगी। वहीं अन्य सुविधाओं का भुगतान करना होगा।

INDEPENDENT NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *