परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को इन उपायों से मिलेगी अपार सफलता, कठिन से कठिन एग्जाम भी आसानी से निकल जाएगा

देश के अलग-अलग हिस्सों के स्कूलों के छात्रों की परिक्षाओं की शुरुआत होने वाली वाली है. छात्र अपनी तरफ से पढ़ाई-लिखाई को लेकर काफी टेंशन में रहते हैं. रात-दिन पढ़ाई में जुटकर परिक्षा को पास करने लगते हैं. इतना ही नहीं छात्र अलग-अलग जुगत लगाते रहते हैं. वहीं, उन्हीं की क्लास के कुछ बच्चे परिक्षा में थोड़ी बहुत मेहनत करके बाजी मार जाते हैं. परिक्षाओं को लेकर परेशान छात्रों के लिए ज्योतिष शास्त्र में कुछ अलग-अलग तरीके भी बताए गए हैं. जिन बच्चों का पढ़ाई-लिखाई में मन कम लग रहा हो, ऐसे छात्र शास्त्रों में लिखे कुछ उपायों को कर मनचाही सफलता पा सकते हैं.

courtsey-google images

ये उपाय ज्यादा लंबे और भयानक नहीं हैं तो छात्र इन उपायों को जल्द से जल्द अपना सकता है. परिक्षा के समय सही समय में ज्यादा समय नहीं बर्बाद करना पड़ेगा. ये एक ऐसा उपाय है जिसके जरिए छात्र ज्यादा अंक तो प्रा्प्त करते ही है इसके साथ ही उनका पढ़ाई में ज्यादा मन भी लगने लगता है. शास्त्रों में गणेश भगवान को ज्ञान और विवेक का देवता कहा जाता है.उनकी शरण में अगर कोई शख्स सच्ची श्रद्धा के साथ जाता है तो उसकी इच्छा पूरी कर भगवान उसे ज्ञान का भंडार दे देते हैं. जो छात्र परिक्षा में अच्छे अंक पाना चाहते हैं वो गणेश जी की कृपा पाने के लिए पढ़ाई वाली टेबल में कुछ आसान से उपाय कर परिक्षा में जबरदस्त परिणाम पा सकता है. इस तरकीब की शुरुआत के लिए छात्र अपनी टेबल पर थोड़े से चावल का ढेर बनाकर रख सकते हैं.

courtsey-google images

चावल के उपर एक पूजा वाली सुपाड़ी को कलावा लपेटकर गणेश जी की प्रतिमा के सामने रख देना चाहिए. छात्र कोशिश करें की गणेश जी की मूर्ती का मुख पूर्व की तरफ हो या फिर उत्तर की तरफ. इसके साथ ही अपनी किताबें और पेन को कोशिश करके दाहिनी ओर रखें.  उन किताबों को जरूर अपने सामने रखें जो आपको कुछ कठिन लगती हों. पढ़ाई से पहले गणेश जी की मूर्ति के सामने कुर्सी पर ध्यान करें और 5 मिनट तक ”गणेश महामंत्र ।। ॐ गं गणपतये नमः” का 108 बार जाप करें । इस मंत्र का जाप करने के तुरंत बाद पढ़ाई शुरू कर दें, अगर आप ऐसा करेंगे तो आपका पढ़ाई में मन लगने लगेगा. वहीं, जो छात्र पढ़ाई में बिलकुल भी ध्यान नहीं लगा पा रहे हैं वो मंदिर शाम के समय जा सकते हैं.

admin:
Leave a Comment

This website uses cookies.