Free Ration in UP : यूपी में कोटे से नहीं मिलेगा फ्री में गेंहू-चावल, चुकाने होंगे इतने रुपये

Free Ration in UP

Free Ration in UP : कोरोना काल में जब लोग अपने घरों में कैद थे गरीब आदमी खाने के लिए संघर्ष कर रहा था, तो ऐसे में प्रधानमंत्री मोदी ने गरीबों के लिए फ्री में राशन योजना की शुरुआत की थी जिसमें गरीब लोगों को फ्री में राशन, गेहूं, चना, तेल और नमक को बांटा गया था। ये योजना यूपी में भी चल रही थी। अब इस योजना को बंद कर दिया गया है। लेकिन यूपी में जून के महीने में लोगों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पाया था। जून महीने की फ्री राशन को इस महीने बांटा जाएगा।

पुराने दाम पर मिलेगा राशन

कोरोना काल से अंत्योदय और राशन कार्ड धारकों को फ्री में राशन दिया जा रहा था। अब योजना को बंद कर दिया गया है। राशन अब लोगों को दो रुपये के रेट पर जो कि पुराने योजना में दिया जाता था उसी को दोबारा लागू कर दिया गया है। इसमें गेहूं और चावल को दो और तीन रुपये प्रति किलोग्राम की दर से दिया जा रहा है। अभी इस महीने की बात करें तो आयोडीन नमक, चना, रिफाइंड तेल फ्री में दिया जाना था। रेवड़ी कल्चर पर जहां सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है वही उत्तर प्रदेश सरकार ने फैसला लिया है कि कोरोना काल में अत्योदय और राशन कार्ड धारकों को फ्री में मिलने वाला राशन बंद कर दिया गया है। इसके लिए कोटेदारों को एक पत्र भी जारी कर दिया गया।

जून माह राशन इस महीने बांटा जाएगा

उत्तर प्रदेश में अंत्योदय और राशन कार्ड धारकों को फ्री में राशन देने की योजना को बंद कर दिया है। अब इन लोगों को पुराने दामों पर ही राशन मिलेगा। जिसमें दो रुपये से तीन रुपये के बीच में गेहूं और चावल को दिया जाएगा जो फ्री राशन जून के महीने का है जिसमें नमक, तेल, फ्री में बंटना था जो कि नहीं बंट पाया था। जून महीने के फ्री राशन को इस महीने बांटा जाएगा। कोरोना काल में NFSA और PMGKY यानि की प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत केंद्र सरकार और राज्य की सरकार की तरफ से चलाया जा रहा था।