ara ballia rail line : रेलवे लाइन से सीधा जुड़ेगा आरा-बलिया, लोगों मिलेगा रफ्तार से रोजगार

ara ballia rail line

ara ballia rail line : बिहार में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच केंद्र सरकार ने भोजपुर के लोगों को बड़ा तोहफा देने जा रही है। बहुत जल्द आरा और बलिया रेल लाइन से जोड़ा जा सकता है। बिहार और उत्तर प्रदेश के ज़िलों को जोड़ने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे ने 61 किमी.

लंबे आरा-बलिया ट्रेन रूट के सर्वे का काम पूरा कर लिया है। इस रेलवे लाइन के बिछने के बाद बलिया की दूरी 36 किमी. तक कम हो जाएगी। इन दोनों स्टेशनों के बीच में छह स्टेशन और दो हाल्ट को बनाया जाएगा।

जगजीवन हाल्ट बनेगा नया जंक्शन

पूर्वोत्तर रेलवे की तरफ पूर्वोत्तर आरा और बलिया के बीच लंबाई 61,693 किमी. लंबी रेल बिछाई जाएगी। इसके साथ ही आरा जंक्शन के पास जगजीवन हॉल्ट को नया जंक्शन बनाने का भी प्रस्ताव लाया जाएगा। सर्वे की टीम ने सभी पहलुओं को ध्यान में रखकर इस रूट का प्रस्ताव भेजा है।

soo

जल्द ही DPR पर काम शुरू किया जाएगा। नई रेलवे लाइन भोजपुर आरा से जगजीवन हाल्ट से होते हुए मसाढ़, अमरावगंज और धमवल होकर बक्सर के नैनीजोर के पास गंगा नदी को पार करते हुए यूपी में काठही कृपालपुर हल्दी, सोहिलपुर-बलिया के पास छपरा-वाराणसी रेल लाइन में मिलेगी।

आरा और बलिया के बीच की दूरी होगी कम

नई रेल लाइन निर्माण के बाद आरा और बलिया के बीच की दूरी कम हो जाएगी। अभी लोगों को आरा से बलिया की ट्रेन से 68 किमी. दूर बक्सर जाना होता है जो कि सड़क मार्ग के जरिए 36 किमी. की दूरी तय करके बलिया पहुंचते हैं। रेल और सड़क मार्ग मिलाकर लोगों को पूरे 104 किमी की दूरी तय करनी पड़ती है। इससे लोगों का खर्च भी ज़्यादा होता और समय भी खराब होता है। नई रेल लाइन बनने से ये 36 किमी की दूरी कम हो जाएगी। रेल निर्माण से भोजपुर और पूर्वांचल के पिछले इलाकों को विकास को नई रफ्तार मिलेगी। आरा-बलिया रेल लाइन बनने के बाद लोगों का आना जाना आसान होगा साथ ही रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।