अमूल दूध के दाम में इतने रुपए की हुई बढ़ोतरी, नई दरें मंगलवार से होंगी लागू

अमूल (AMUL MILK)ने लोकसभा चुनाव के नतीजों के पहले ही अपने दुग्ध उत्पाद की कीमतों में भारी बढ़ोतरी कर दी है. अमूल ने दिल्ली समेत देश की अन्य प्रमुख बाजारों में दूध की कीमत में 2 रुपये की बढ़ोतरी कर दी है. कंपनी ने इससे पहले 2017 में दुध की कीमतें बढ़ाईं थीं. दुग्ध उत्पादों में बढ़ी हुई कीमतें  मंगलवार से लागू हो जाएंगी. बताया जा रहा है कि बाजार में पशुओं को खिलाया जाने वाले चारे की कीमत महंगे होने की वजह से दूध की कीमत में उछाल आया है. दूध की कीमतों (AMUL MILK) में ये उछाल किसानों द्वारा अपने पशुओं को कम चारा खिलाने की वजह से आया है, वहीं गर्मियों के दौरान दुधारु पशु दूध भी कम देते हैं.

अमूल ब्रांड से दूध(AMUL MILK) बेचने वाली कंपनी गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन के प्रबंध निदेशक आरएस सोढ़ी ने जानकारी दी कि अप्रैल माह से जुलाई माह के दौरान दूध के उत्पाद में साल के अन्य महीनों की तुलना में दूध का उत्पादन कम हो जाता है यही वजह है कि 2017 में भी दूध की कीमतों में बढ़ोतरी की गई थी.

अमूल के अन्य उत्पादों पर भी पड़ सकता है असर

दूध के दामों में बढ़ोतरी के चलते ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि इससे घी, पनीर, मक्खन, पनीर, लस्सी और छाछ के अलावा दूध से बनने वाले सारे उत्पादों की कीमत में उछाल देखा जा सकता है. दूध की कीमत बढ़ने के कारण आधा लीटर वाले फुल क्रीम दूध, अमूल गोल्ड(AMUL MILK) के दाम बढ़कर अब 27 रुपए हो जाएंगे. वहीं, अमूल शक्ति का पैकट 25 रुपए का मिलेगा.

amul-milk_independentnews
courtsey-google images

जबकि अमूल ताजा और अमूल डायमंड के दाम 21 रुपए और 28 रुपए हो जाएंगे. अमूल ब्रांड के तहत डेयरी उत्पादों की मार्केटिंग  करने वाली संस्था गुजरात को-ऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन (जीसीएमएमएफ) को मौजूदा वित्त वर्ष में अपना कारोबार 20 फीसदी बढ़कर लगभग 40,000 करोड़ रुपए हो जाने की उम्मीद है.

पशुपालकों को होगा फायदा

बताते चलें कि अमूल डेयरी ने दूध(AMUL MILK) का खरीद मूल्य बढ़ा दिया है। अमूल ने भैंस के दूध के एक किलो बसा (फैट) का दाम 10 रुपए बढ़ा दिया है, जबकि गाय के दूध में एक किलो बसा का मूल्य 4.5 रुपए बढ़ा दिया है। दूूध के मूल्य में वृद्धि से सात लाख पशुपालकों को फायदा मिलेगा। अमूल(AMUL MILK) डेयरी को सर्दियों में रोजाना 30 लाख लीटर दूध की आमद होती थी जो अब घटकर 25 लाख लीटर रह गई है। पशुपालकों को बढ़ा हुआ दाम 11 मई से मिलना शुरू हो गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *