Lucknow university : लखनऊ विश्वविद्यालय का रिजल्ट घोषित, हर दूसरा छात्र फेल

Lucknow university : लखनऊ विश्वविद्यालय द्वारा जारी किए गए बीएससी फर्स्ट सेमेस्टर के परीक्षा परिणाम ने सबको चौका दिया है। इस बार बीएससी प्रथम सेमेस्टर का परिणाम बीकॉम और बीए के परीक्षा परिणाम से भी खराब रहा है। बीएससी के परीक्षा परिणाम में 50.09 फीसदी छात्र फेल हो गए हैं. इसकी तुलना में बीकॉम के फर्स्ट सेमेस्टर में 9.95 फीसदी और बीए के 23.79 फीसदी छात्र ही फेल हुए। छात्र अपने परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.lkouniv.ac.in पर लॉग-इन कर देख सकते हैं।

lucknow_university_student
courtsey-google images

इसबार विश्वविद्यालय प्रबंधन ने बीएससी में पास हो चुके और बैकपेपर दोनों के आंकड़े मिलाकर जारी किए है। जिसके कारण फेल होने वाले छात्रों की संख्या बढ़ गई है। बी.ए. और बी.कॉम के परीक्षा परिणाम में पास और बैकपेपर के आंकड़े अलग-अलग जारी किए गए थे। सूत्रों की माने तो बी.एस.सी ग्रेजुएशन की परीक्षा में पास होने वाले छात्रों की संख्या में कमी आई है। जिसमें 25 फीसदी छात्र ही शामिल हैं। ऐसे में विश्वविद्यालय ने पास और बैकपेपर दोनों के आकड़ों को मिलाकर बीएससी का परीणाम जारी कर दिया। वहीं, फर्स्ट इयर के प्रथम सेमेस्टर में फेल हुए छात्रों को डरने की जरूरत नहीं है। वे छात्र फेल होने के बाद भी सेकंड सेमेस्टर में प्रमोट कर दिए जाएंगे इसके साथ ही वे उस सत्र के लिए परीक्षा में शामिल हो सकेंगे। विश्वविद्यालय की परीक्षा पॉलिसी के अनुसार पूरी तरह से फेल छात्रों को भी सेकंड सेमेस्टर में बढ़ा दिया जाएगा।

lucknow_university
courtsey-google images

छात्र जिस पेपर में पास नहीं हैं उन्हें पेपर पास करने का मौका थर्ड सेमेस्टर की परीक्षा के दौरान दिया जाएगा। उस दौरान उन्हें थर्ड सेमेस्टर के साथ प्रथम सेमेस्टर में फेल हुए विषय के लिए भी परीक्षा पास करनी होगी। यदि थर्ड सेमेस्टर में भी छात्र फेल होते हैं तो उन्हें चौथे सेमेस्टर में प्रमोट किया जाएगा, लेकिन उन्हें चौथे सेमेस्टर तक सभी बैकपेपर की परीक्षा पास करनी होगी तभी उन्हें अगले सेमेस्टर में बैठने की इजाजत मिलेगी।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *