जानिए इस पडो़सी मुल्क ने क्यों बैन की भारत की करेंसी

नोटबंदी के बाद भारत में शुरू हुए 2000 व 500 के नोट को नेपाल में बैन कर दिया गया है। इसके साथ हाल ही में शुरू हुए 200 के नोट को भी वहां बंद कर दिया गया है। अगर साफ शब्दों में कहा जाए तो नेपाल सरकार ने 100 रुपये से ऊपर के सभी भारतीय करंसी नोटों के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है। नेपाल में अब सिर्फ 100 रुपये के भारतीय करंसी नोट इस्तेमाल ही किया जा सकेगा।

gokul_prasad_baskota
Courtesy -google images

नेपाल के सूचना मंत्री गोकुल प्रसाद बास्कोटा ने इसकी जानकारी देते हुए कहा, ”सरकार ने 200 रुपये, 500 रुपये और 2000 रुपये मूल्य के भारतीय बैंक करंसी नोट रखना, उनके बदले किसी सामान को लेना या भारत से उन्हें नेपाल में लाना इलीगल यानी गैरकानूनी हो गया है।”

अभी तक नेपाल सरकार ने भारत में नोटबंदी के बाद जारी हुई नई करेंसी को मान्यता तो नहीं दी थी पर उसे गैरकानूनी भी नहीं घोषित किया था। ये नोट नेपाल बाजार में चल रहे थे।

Indian_currency
Courtesy-google images

आखिर इतना कड़ा फैसला क्यों लिया गया?

इसका जवाब देते हुए बास्कोटा ने कहा कि नेपाल में आर्थिक अपराध और हवाला कारोबार पर रोक के लिए यह पहल की गई है। उन्होंने कहा कि इसका प्रभाव नेपाल के पर्यटन उद्योग पर पड़ेगा, लेकिन देशहित में यह फैसला जरूरी था|

भारत से दो सौ, पांच सौ और दो हजार रुपये के नोटों को लाना, पास में रखना, खरीद-फरोख्त में इस्तेमाल करना कानूनन अपराध माना जाएगा।

Nepal_tourism
Google images

अब भारतीयों को नेपाल में इस्तेमाल के लिए 100-50 या अन्य छोटे नोट ले जाने होंगे। या फिर उन्हें नेपालबॉर्डर पर ही नए भारतीय नोटों को नेपाल की करेंसी से बदलना होगा।

बताया जा रहा है कि नेपाल सरकार के इस फैसले से भारत और नेपाल के रिश्तों में खटास आ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *