Lucknow Nagar Nigam : यूपी में इतने हज़ार लोगों के पास हैं पिटबुल जैसी प्रजाति के खतरनाक कुत्ते, सरकार बनाने जा रही ये खास नियम

lucknow nagar nigam

Lucknow Nagar Nigam : लखनऊ में हुए पिटबुल कुत्ता मामले के बाद सूबे में हिंसक कुत्ते पालने पर रोक लग सकती है। नगर विकास ने सरकार से 3 हिंसक प्रजाति के कुत्तों के पलाने पर रोक लगाने की मांग की है। इसको लेकर नगर विकास प्रशासन ने सरकार को एक लेटर भी लिखा है। इसमें सबसे पहले पिटबुल और रॉटविलर जैसी प्रजातियों के नाम शामिल किए गए हैं। नगर विकास विभाग के विशेष सचिव राजेंद्र पनेशिया के नेतृत्व में हुई बैठक में ये फैसला लिया गया है था।

हिंसक कुत्तों पर प्रतिबंध लगाएगा यूपी

यूपी की राजधानी लखनऊ में पिटबुल ने 80 साल की एक महिला को मार डाला था। जिसके बाद ये मामला काफी गंभीर हो गया. हम बात करें लखनऊ नगर निगम की तो उनकी सूचना के अनुसार 27 लोगों के पास पिटबुल प्रजाति का कुत्ता है।

Photo by unsplash

यूपी और देश में पहले से ही इसपर बैन लग चुका है। अब अगर ऐसे में ये प्रस्ताव पास हो जाता है तो यूपी पहला राज्य बन जाएगा जहां ये प्रजाति का कुत्ता बैन होगा। प्रतिबंध की बात करें तो न्यूजीलैंड, फ्रांस, बेल्जियम में पिटबुल पर बैन लगा हुआ है।

5 हजार लोगों के पास हैं ऐसे कुत्ते

लखनऊ में 178 लोगों ने रॉटविलर कुत्ता पाल रखा है। ये कुत्ता काफी हिंसक माना जाता है। कुछ दिनों पहले गोमती नगर में इस कुत्ते ने 10 साल की बच्ची को काट लिया था। ये कुत्ता जर्मनी में पाया जाता है। ये काफी ताक़तवर प्रजाति का कुत्ता माना जाता है। इस प्रजाति के कुत्ते का प्रयोग रक्षा के लिए किया जाता है। प्रदेश में लगभग पांच हज़ार लोग ऐसे हैं जिनके पास सिबेरियन, पिन्सचर, बाक्सर और डाबरमैन जैसे कुत्ते हैं। कुत्तों की इन प्रजातियों को देखते हुए नगर निगम ने रजिस्ट्रेशन शुल्क लगा दिया है। लखनऊ में 927 लोग हैं जिनके पास हिंसक प्रजाति के कुत्ते हैं।