cow in jaunpur : उत्तर प्रदेश में गाय की मौत, अंतिम संस्कार कर छपवाया शोक संदेश अब तेरहवीं में कार्ड बांटकर दे रहे भोज का निमंत्रण

cow in jaunpur : यूपी एक ऐसा राज्य है जो खुद में ही खास है। यहां आए दिन ऐसी ऐसी घटनाएं होती हैं जिन्हें देखकर लोग हैरान रह जाते हैं। एक बार फिर यूपी से एक ऐसी खबर आई है जो इस समय काफी चर्चा का विषय बन चुकी है। ये खबर उत्तरप्रदेश के जौनपुर जिले की है। यहां पर एक गाय का अंतिम संस्कार किया गया और यही इस समय हर तरफ सुर्खियों में छाया हुआ है।

ये बात है महराजगंज क्षेत्र की। यहां के तेजी बाजार में लक्ष्मी नाम की एक गाय की मौत हो गई थी। ये गाय 17 साल की थी। इसकी मौत के बाद इसका पूरे विधि विधान से अंतिम संस्कार किया गया। अब इसकी तेरहवीं की खबर भी सामने आई है। तेरहवीं के भोज के लिए हर तरफ कार्ड बांटे जा रहे हैं।

cow in jaunpur : उत्तर प्रदेश में गाय की मौत, अंतिम संस्कार कर छपवाया शोक संदेश अब तेरहवीं में कार्ड बांटकर दे रहे भोज का निमंत्रण 1

महराजगंज के तेजी बाजार के रहनेवाले दिनेश जायसवाल के यहां ही लक्ष्मी नाम की गाय रहती थी। 29 अगस्त को लक्ष्मी का निधन हो गया। बताया जा रहा है कि गाय की उम्र 17 साल थी। जब गाय की मौत हुई तो उसकी अंतिम विदाई के लिए सारा इंतज़ाम किया गया। गाय की शुद्धि का कार्यक्रम 6 सितंबर को सम्पन्न हुआ। वहीं आज यानी 10 सितंबर को गाय की तेरहवीं जिसके उपलक्ष्य में भोज का आयोजन किया गया है।

cow in jaunpur : उत्तर प्रदेश में गाय की मौत, अंतिम संस्कार कर छपवाया शोक संदेश अब तेरहवीं में कार्ड बांटकर दे रहे भोज का निमंत्रण 2

गाय दिनेश जायसवाल के यहाँ 2004 से रह रही थी। उसकी सेवा में पूरा परिवार लगा रहता था। पूरे 17 साल तक गाय की सेवा में परिजनों ने कोई कमी नहीं आने दी। अचानक किसी बीमारी के चलते लक्ष्मी का निधन हो गया। इसके बाद परिवारजनों ने जो किया वो सब तो एक मिसाल बन ही गया है।

हिंदू धर्म मे तो वैसे भी गाय को सबसे ऊपर स्थान दिया गया है। ऐसे में गाय की इस कदर सेवा और अंतिम संस्कार करके जौनपुर के इस परिवार ने सभी का दिल जीत लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *