थाने में ASI पुलिसकर्मी की बेटी बनी DSP, जब थानें पहुंची तो पिता ने किया सैल्यूट कहा बेटी ने सिर गर्व से ऊंचा कर दिया

माता पिता का सपना हमेशा से यही होता है कि उनके बच्चे बहुत आगे बढ़े और हर कामयाबी हासिल करें। बच्चों की तरक्की देखकर माता-पिता जितना खुश होते हैं, उससे ज्यादा खुश कोई नहीं हो सकता। बच्चे की होने के बाद से माता-पिता बस हर पल यही ख्वाब बुनते रहते हैं कि, किस तरह से वह अपने बच्चे को जीवन की हर राह में सफल बना सके। ऐसे में अगर कोई सफलता की राह में, अपने माता पिता से भी दो कदम आगे चलता है तो मां-बाप का सर गर्व से ऊंचा हो जाता है। सफलता का एक ऐसा ही उदाहरण लेकर आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपके सामने आए हैं। आज के इस पोस्ट में हम एक ऐसी आईएएस ऑफिसर की बात करने जा रहे हैं, जो अपने ही एसआई पिता के थाने में डीएसपी बनकर आई। आज के इस पोस्ट में हम बात कर रहे हैं डीएसपी शाबेरा अंसारी की।

ड्यूटी पर पिता ने बेटी को किया सैल्यूट

शाबेरा अंसारी का जन्म उत्तर प्रदेश राज्य के बलिया जिले में हुआ था इनके पिता का नाम है अशरफ अंसारी, जो मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में लसूड़िया थाने में एएसआई के पद पर तैनात हैं। सबसे खास बात यह है कि अब इनकी बेटी शाबेरा की पोस्टिंग मझौली थाने में डीएसपी के रूप में हुई है। लॉकडाउन में कुछ ऐसा हुआ कि सवेरा के पिता अशरफ अंसारी को भी मझौली थाने में ही ड्यूटी करनी पड़ी। एसआई पिता को अपनी डीएसपी बेटी के नीचे काम करना पड़ता है। ड्यूटी पर पिता अपनी बेटी को सैल्यूट करते हैं।

थाने में ASI पुलिसकर्मी की बेटी बनी DSP, जब थानें पहुंची तो पिता ने किया सैल्यूट कहा बेटी ने सिर गर्व से ऊंचा कर दिया 1

वही घर पर अपनी बेटी के ही हाथों का बना खाना खाते हैं। और इस तरह दोनों अपने धर्म और कर्म में बैलेंस बना रहे हैं। जानकारी के लिए आपको बता दें सवेरा की पोस्टिंग पहले एस आई के तौर पर मध्य प्रदेश में हुई थी । बाद में साल 2018 में उन्होंने पीसीएस की परीक्षा उत्तीर्ण की और वह डीएसपी बन गई। बेटी को अपने से ऊंचे पद पर आसीन देख अशरफ का सीना गर्व से फूल जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *