Aprajit Lohan IPS : अच्छी खासी नौकरी छोड़कर बिना कोचिंग की यूपीएससी परीक्षा की तैयारी, पहले प्रयास में IPS अधिकारी बनकर किया सपना पूरा

Aprajit Lohan IPS

Aprajit Lohan IPS : जीवन में सफल होना एक बड़ी चुनौती है। हर कोई अपनी जिंदगी में कुछ ऐसा करना चाहता है जो दूसरों के लिए प्रेरणा का स्रोत बने। इसके लिए लोग तमाम तरह की कठिनाइयों का सामना करते हैं। सिविल सेवा परीक्षा भी किसी चुनौती से कम नहीं है। हर साल लाखों अभ्यर्थी इस परीक्षा में सफल होने का प्रयास करते हैं। कुछ हो पाते हैं, कुछ नहीं। संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा में सफलता सिर्फ इस बात पर निर्भर करती है कि आपने कितनी ईमानदारी और मेहनत के साथ इस परीक्षा की तैयारी की है।

आज हम जिस शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं, उनके लिए सिविल सेवा के मायने औरों से कहीं अलग है। इस आईएएस अधिकारी का नाम अपराजित है. अपराजित ने यूपीएससी परीक्षा को पहले ही प्रयास में पास कर लिया. कमाल की बात ये है कि उन्होंने देश की सबसे कठिन परीक्षा को घर पर ही रहकर इंटरनेट की मदद से पूरी पढ़ाई की. उनकी कहानी ऐसे युवाओं के लिए प्रेरणा हो सकती है जो घर से ही इस परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं.

कौन हैं आईएएस अपराजित लोहान

अपराजित मूल रूप से हिसार (हरियाणा) के रहने वाले हैं। उन्होंने 2012 में CBSE Board से हाईस्कूल और 2014 में इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की। वो हमेशा से पढ़ने में अच्छे रहें हैं। 12वीं अपराजित ने 92 प्रतिशत अंक हासिल किए थे। उनकी स्कूलिंग हिसार में ही हुई है। जिसके बाद उनका एडमिशन IIT मुंबई में हो गया, जहां से उन्होंने मैकेनिकल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। अपराजित हमेशा से ही सिविल सेवा में आने का सपना देखते थे।

अपराजित बताते हैं कि IIT से पास आउट होने के बाद उन्हें एक कंपनी से 25 लाख रुपए का पैकेज ऑफर हुआ था, लेकिन उन्होंने उस नौकरी को ठुकरा दिया। उनके अंदर IAS बनने का जुनून सवार था। उन्हें देश के लिए कुछ करना था। इन सबके बीच परिवार का सहयोग हमेशा उनके साथ रहा।

सपना पूरा करने के लिए की कड़ी मेहनत

अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए अपराजित ने कड़ी मेहनत करना शुरू कर दिया। इस दौरान उन्होंने ऑनलाइन कोचिंग की मदद ली और एक साल घर पर रहकर ही इस परीक्षा के लिए कड़ी मेहनत की। अपराजित की माने तो उन्होंने परीक्षा की तैयारी के लिए हर दिन औसतन 7 से 8 घंटे तक पढ़ाई की है। जिस दिन वो किसी वजह से कम अध्ययन कर पाते थे, तो उसके अगले दिन वो अपनी पढ़ाई का समय बढ़ाकर उसकी पूर्ति कर लेते थे। इसके अलावा पढ़ाई के अपने माइंड को फ्रेश करने के लिए वो या तो परिवार के साथ समय बिताते थे, अन्यथा फिल्में देख लेते थे।

पहली बार में मिली यूपीएससी परीक्षा में सफलता

सही रणनीति की वजह से उन्हें पहले ही प्रयास में ही सफलता मिल गई। UPSC की परीक्षा में उन्होंने ऑल इंडिया 174वीं रैंक हासिल की और तरह अपनी सफलता का रास्ता तय कर लिया। अपराजित का मानना हैं, ये सोचना बिल्कुल गलत है कि UPSC की परीक्षा को पास करने में 4 से 5 साल लगते हैं। अगर पूरी गंभीरता के साथ इस परीक्षा की तैयारी की जाए तो निश्चित तौर पर आपको पहली बार में ही सफलता मिल जाएगी।

फिलहाल वो बिहार कैडर में IPS अधिकारी के तौर पर कार्यरत हैं. अपराजित सोशल मीडिया अकाउंट पर भी काफी एक्टिव रहते हैं. बता दें कि अकसर वो अपने जीवन से जुड़े पोस्ट अपने सोशल मीडिया अकाउंट इंस्टाग्राम में शेयर करते रहते हैं. उनके अकाउंट में अभी 68 हजार से भी ज्यादा लोग जुड़े हुए हैं.