IAS Aishwarya Sheoran : मॉडल बनकर किया मां का सपना पूरा फिर यूपीएससी परीक्षा में 93वीं रैंक हासिल कर बनी IAS अधिकारी

IAS Aishwarya Sheoran: कहते हैं कि अगर मन में सच्चा दृढ़ संकल्प तो हो तो कुछ भी मुश्किल नहीं है. आज हम ऐसी ही एक भारतीय प्रशासनिक सेवा के महिला अधिकारी बात करेंगे जिन्होंने अपने जीवन में मानो सफलता का भंडार लगा दिया हो. इनकी सक्सेस स्टोरी जानने के बाद ऐसा लगता है कि जैसे सफलता इनके पैरों के साथ कदम से कदम मिलाकर चलती है। इस IAS अधिकारी का नाम ऐश्वर्या श्योराण है.

इन्होंने पहले तो मॉडलिंग में मिस इंडिया के फाइनलिस्ट तक का सफर तय किया फिर साल 2019 में सिविल सर्विसेज में आईएएस अधिकारी बनकर ये साबित कर दिया कि वो जितनी खूबसूरत हैं उतना ही उनकी मेहनती है. उन्होंने पहले तो मॉडलिंग के लिए मेहनत की फिर यूपीएससी परीक्षा में अच्छी रैंक हासिल कर आईएएस अधिकारी बनने के लिए की. उनकी सफलता इस बात की नजीर है कि अगर इंसान चाहे तो कुछ भी कर सकता है. ऐश्वर्या की कहानी उन युवाओं को भी प्रेरणा दे सकती हैं जो थोड़ी सी सफलता हासिल करने के बाद मेहनत करना छोड़ देते हैं. आइए जानते हैं ऐश्वर्या ने कैसे इस परीक्षा को पास कर सफलता हासिल की.

कौन हैं (IAS Aishwarya Sheoran) ऐश्वर्या श्योराण

ऐश्वर्या श्योराण राजस्थान के एक छोटे से गांव चूरू की रहने वाली हैं. ऐश्वर्या के पिता का नाम अजय श्योराण है, जो कि भारतीय सेना में तेलंगाना रीजन के करीमनगर में कर्नल के पद पर तैनात हैं. उनकी माता का नाम सुमन श्योराण है जो कि एक ग्रहणी हैं. ऐश्वर्या की शुरुआती पढ़ाई दिल्ली में हुई. वो बचपन से ही पढ़ने में काफी तेज थी. अपनी स्कूलिंग के दौरान उन्होंने एकेडमिक्स में 97 फीसद अंक हासिल करके टॉप किया था।

ऐश्वर्या ने अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से की. इसके बाद उन्होंने IIM (Indian Institute of management) जाने का निश्चय किया. देश के सबसे प्रतिष्ठित मैनेजमेंट संस्थान इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट इंदौर में प्रवेश पा लिया. हालांकि इन्होंने सिलेक्शन के बाद वहां पढ़ाई नहीं की. IIM की पढ़ाई के दौरान ही उन्होंने यूपीएससी की तैयारी करने का प्लान किया. वो ऐसी नौकरी करना चाहती थीं जिसमें वो देश के लिए कुछ कर सकें. इसलिए उन्होंने IIM में मैनेजमेंट की पढ़ाई छोड़कर आईएएस की तैयारी करने लगी. एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था कि वो जब बहुत छोटी थी तभी से आईएएस अधिकारी बनना चाहती थी.

मॉडलिंग कर किया मां का सपना पूरा

ऐश्वर्या श्योराण बचपन से ही बहुत ही कुशाग्र बुद्धि की थी अगर इन्हें सुंदरता और बुद्धिमत्ता का मिश्रण कहा जाए तो गलत नहीं होगा. पढ़ाई के साथ उन्होंने मॉडलिंग में भी अपना जलवा बिखेरा. उन्होंने साल 2015 में अपनी काबिलियत और लगन के बल पर मिस दिल्ली का खिताब जीता. इसके बाद साल 2016 में फेमिना फैशन शो में फाइनलिस्ट में जगह बनाई.

इतना ही नहीं इसी साल ऐश्वर्या ने देश के सबसे बड़े फैशन मॉडलिंग शो लैक्मे फैशन वीक में अपना जलवा बिखेरा। एक साक्षात्कार में उन्होंने बताया था कि उनकी मां चाहती थी कि वो मॉडल बनें. उनकी मां ने बेटी का नाम ऐश्वर्या राय बच्चन के नाम पर रखा. ऐश्वर्या श्योराण ने मां के सपने को पूरा करने के लिए मिस इंडिया के लिए तैयारी की थी.

बिना किसी कोचिंग की मदद से की तैयारी

किसी भी काम को अगर करने का ठान लिया जाए तो कुछ भी असंभव नहीं होता है. ऐश्वर्या श्योराण बताती हैं कि उन्होंने बिना किसी कोचिंग की मदद के सिर्फ 10 महीनों के भीतर यूपीएससी परीक्षा के सिलेबस को समझा. साल 2019 की सिविल सर्विसेज परीक्षा में उन्होंने 93वीं रैंक हासिल की है जो कि एक बहुत बड़ी उपलब्धि है। ऐश्वर्या कहती हैं कि किसी भी एग्जाम को क्रैक करने के लिए सबेस पहले आप उसके आधार को समझें. उसके सिलेबस को पूरा एनालाइज करें. उसके बाद ही आप उसकी तैयारी में लगे.

कोचिंग संस्थानों की सहायता लेने पर ऐश्वर्या ने कहा कि अगर आपके पास इस परीक्षा की बुनयादी जानकारी नहीं है तो आप कोचिंग का सहारा ले सकतें हैं. हालांकि self-study इस परीक्षा को पास करने के लिए पर्याप्त है अगर आप मन लगाकर पढ़ाई करते हैं तो आपको सफलता जरूर मिलेगी.यूपीएससी की तैयारी करने से पहले लगभग 1 या 2 महीने आप इंटरनेट पर रिसर्च करें सब कुछ फ्री में इंटरनेट पर अवेलेबल है जब पूरा सिलेबस आपको समझ में आ जाए तभी आप प्रिपरेशन स्टार्ट करें अगर आप को समझने में दिक्कत हो रही है तब आप कोचिंग की मदद लें अन्यथा कोचिंग की कोई आवश्यकता नहीं है।

93वीं रैंक हासिल कर बनी IAS अधिकारी

ऐश्वर्या श्योराण ने जब यूपीएससी की परीक्षा पास की तो माता पिता बहुत खुश हुए. बेटी के IAS अधिकारी बनने के बाद मां को भी काफी खुशी हुई. उनकी मां ने बताया कि बेटी ने पहले तो मेरा सपना पूरा किया फिर आईएएस बनकर परिवार का नाम रोशन किया है. ऐश्वर्या ने यूपीएससी परीक्षा में 93वीं रैंक हासिल की थी. परीक्षा पास कर वो IAS अधिकारी बन गई हैं.

सोशल मीडिया में उन्हें लाखों लोग फॉलो करते हैं. सोशल नेटवर्किग साइट इंस्टाग्राम पर वो अकसर अपने पोस्ट अपडेट करती रहती हैं. उनकी सफलता बताती है कि अगर मेहनत और लगन से किसी काम को किया जाए तो किसी भी क्षेत्र में सफलता हासिल की जा सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *