किस देश में है सबसे ज्यादा हैकर

इंटरनेट ने दुनिया को जहां एकसाथ जोड़ा है वहीं आम आदमी की जिंदगी काफी आसान और सुविधाजनक कर दी है.आज आप घर बैठे कोई भी मनचाहा सामान आसानी से मंगवा सकते हैं, लोगों से बातचीत कर सकते हैं, कोई भी पसंदीदा कार्यक्रम देख सकते हैं.

independent news_Person_smartphone

लेकिन इंटरनेट ने जहां सुविधाएं दी हैं वहीं कई परेशानियों को भी जन्म दिया है.इनमें से एक है हैकर्स की परेशानी. हैकर्स की पहुंच आपके कम्प्यूटर के द्वारा इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस तक है. ये लोग किसी भी कम्प्यूटर सिस्टम को हैक कर उसकी जानकारी निकालने में सक्षम होते हैं.हैकर्स लगभग सभी देशों में हैं.खासकर विकासशील और विकसित देशों में हैकरों ने अपनी पकड़ काफी मजबूत बना रखी है.

 

 

हैकरों की शुरूआती दौर की बात करें तो दूसरे विश्व युद्ध के बाद रूस में काफी बेरोजगारी आ गई थी.जिससे साफ्टवेयर और कम्प्यूटर के काफी जानकारों को अपनी नौकरी गंवानी पड़ी थी.उन दिनों लोगों को हैकिंग के बारे में ज्यादा पता नहीं था.रूस के बेरोजगार कम्प्यूटर इंजीनियरों ने कम्प्यूटर पर हाथ पैर मारना शुरू कर दिया. इसी दौरान उन्हें हैकिंग के बारे में पता चला. उन्होंने इसके द्वारा पड़ोसी देशों को निशाना बनाना शुरू कर दिया.वहीं इसी के साथ उन्होंने की बैंकों को भी अपने निशाने में ले लिया.

ऐसा माना जाता है कि उस समय रूस सरकार का इन हैकरों को समर्थन था. रूस सरकार उस समय इन हैकरों से पड़ोसी देशों में साइबर हमले करवाती थी. ये हैकर रूस सरकार को कई खूफिया जानकारी देते थे.रूस सरकार के इस बढ़ावे के चलते देश में हैकरों की संख्या बढ़ती चली गई. हालांकि बाद में वहां की सरकार ने अपने सरकारी हैकरों को इस काम में लगा दिया और हर गली में उभर कर सामने आ रहे हैकरों पर रोक लगाना चालू कर दिया. ऐसा माना जाता है कि रूस में इस समय सबसे ज्यादा हैकर हैं.जिन्होंने पूरी दुनिया को अपनी गिरफ्त में ले रखा है.अगर आपको हमारा ये कंटेंट पसंद आया हो तो इसे शेयर करें