Mohammad akib upsc : सरकारी स्कूल में पढ़ाई कर गरीब किसान का बेटा बना IPS अधिकारी, UPSC परीक्षा में हासिल की 203वीं रैंक

Mohammad akib upsc : सरकारी स्कूल में पढ़ाई कर गरीब किसान का बेटा बना IPS अधिकारी, UPSC परीक्षा में हासिल की 203वीं रैंक

Mohammad akib upsc : संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा हर साल आयोजित की जाती है. इस परीक्षा में लाखों छात्र अपने टैलेंट को आजमाते हैं. इस परीक्षा की तैयारी ज्यादतर मिडिल क्लास या गरीब परिवार से ताल्लुक रखने वाले युवा करते हैं. आज हम आपको जिस आईएएस अधिकारी के बारे में बताने जा रहे हैं वो एक गरीब किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं. इनका नाम मोहम्मद आकिब हैं.

जिन्होंने आर्थिक समस्याओं का सामना करते हुए ना सिर्फ देश की सबसे कठिन परीक्षा में सफलता हासिल की बल्कि अच्छी खासी रैंक भी हासिल की. आइए जानते हैं किसान परिवार से आईएएस अधिकारी तक का उन्होंने कैसे सफर तय किया. ये सक्सेस स्टोरी ऐसे युवाओं के लिए प्रेरणा हो सकती है जो गरीब परिवार से होते हुए बड़े सपनों की कोशिश करते हैं.

कौन हैं (Mohammad akib upsc) आईपीएस मोहम्मद आकिब

आकिब उत्तर प्रदेश के संतकबीरनगर के भिटवा गांव के रहने वाले हैं. उनके पिता अलाउद्दीन एक किसान हैं. उनकी मां का नाम कलिमुन्निशा है. वो अपने परिवार में माता पिता और दो भाईयों के साथ रहते हैं. उनकी शुरुआती पढ़ाई सरकारी स्कूल में हुई. इसके बाद सिद्धार्थनगर के नवोदय विद्यालय में उनका दाखिला हो गया. यहां से हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की पढ़ाई कर उन्होंने आईआईटी की तैयारी शुरू कर दी.

Mohammad akib upsc : सरकारी स्कूल में पढ़ाई कर गरीब किसान का बेटा बना IPS अधिकारी, UPSC परीक्षा में हासिल की 203वीं रैंक 1

पढ़ाई में अच्छा होने के कारण बहुत जल्द उनका आईआईटी में सिलेक्शन हो गया. उन्होंने आईआईटी चेन्नई से कंप्यूटर साइंस में बीटेक की पढ़ाई पूरी की. हालांकि उनका बचपन से ही आईएएस अधिकारी बनने का सपना था. इसलिए उन्होंने अपने परिवार को बताया कि वो यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं. परिवार की मंजूरी मिलने के बाद उन्होंने दिल्ली जाकर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी.

2 प्रयासों में UPSC परीक्षा में मिली असफलता

मोहम्मद आकिब बताते हैं कि वो पढ़ाई में शुरुआत से ही ठीक थे. लेकिन यूपीएससी परीक्षा के पैटर्न को अच्छी तरह ना समझ पाने और सही रणनीति ना होने के कारण उन्हें 2 बार असफलता का सामना करना पड़ा. उन्होंने बताया कि पहले प्रयास में उन्होंने प्रीलिम्स की परीक्षा को पास कर ली लेकिन मेन्स की परीक्षा में असफलता हासिल हुई. वहीं, दूसरे प्रयास में स्वास्थ्य सही ना होने की वजह से वो प्रीलिम्स की परीक्षा भी पास नहीं कर सके. 2 परीक्षाओं में लगातार असफलता मिलने के बाद भी उन्होंने अपना हौसला नहीं कम होने दिया. वो तैयारी करते रहे. साल 2019 में उन्होंनें यूपीएससी परीक्षा तो पास कर ली लेकिन रैंक अच्छी ना आने के कारण वो तैयारी करते रहे. साल 2019 की परीक्षा में 579वीं रैंक हासिल हुई थी.

203वीं रैंक हासिल कर बनें अधिकारी

यूपीएससी परीक्षा के चौथे प्रयास में उन्होंनें अच्छी खासी रैंक हासिल की. साल 2020 में मोहम्मद आकिब (Mohammad akib upsc rank) को यूपीएससी परीक्षा में 203वीं रैंक मिली. इसी के साथ उनका IPS अधिकारी के तौर पर सिलेक्शन हो गया.

Mohammad akib upsc : सरकारी स्कूल में पढ़ाई कर गरीब किसान का बेटा बना IPS अधिकारी, UPSC परीक्षा में हासिल की 203वीं रैंक 2

फिलहाल आकिब सरदार वल्लभ भाई पटेल राष्ट्रीय पुलिस अकादमी, हैदराबाद में प्रशिक्षण ले रहे हैं. उनकी इस सफलता से पूरा परिवार काफी खुश है. उन्होंने अपनी सफलता से ये साबित कर दिया कि कांवेंट स्कूल ही नहीं बल्कि सरकारी स्कूल के विद्यार्थी भी आइएएस बनकर देश की सेवा कर सकते हैं।

INDEPENDENT NEWS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *