Negligence of madhya pradesh hospital : शर्मनाक ! अस्पताल में मरीज के शव पर चढ़ी चीटियां, 5 घंटों तक प्रशासन रहा बेखबर

negligence of madhya pradesh hospital

courtsey-google images

Negligence of madhya pradesh hospital : मध्य प्रदेश में सरकारी अस्पताल की बड़ी लापरवाही सामने आई है. जहां शिवपुरी के एक अस्पताल में भर्ती मरीज की मौत के बाद उसके शव को 5 घंटे तक बेड पर रखा जाता है. इस दौरान मृत शख्स के शव को चीटियां खाने लगती हैं. लेकिन इस बीच अस्पताल प्रशासन की तरफ से शव की ओर किसी का ध्यान ही नहीं जाता है. शव को पांच घंटो तक चीटियां खाती रहती हैं . अस्पताल प्रशासन द्वारा ऐसी असंवेदनशील लापरवाही ने सबको हैरान कर दिया है. वहीं इस वाकये ने सूबे के अंदर स्वास्थ्य व्यवस्था पर भी कई सवाल भी खड़े कर दिए हैं.

दरअसल, शिवपुरी के जिला अस्पताल में बालचन्द लोधी की टीबी की बीमारी की वजह से मंगलवार को मौत हो गई थी. जिसके बाद उनका शव काफी देर तक अस्पताल के वार्ड पर ही पड़ा रहा. शव के ज्यादा देर तक वार्ड में पड़े रहने के कारण मृतक का शरीर फूल गया और उसमें चीटियां रेंगने लगीं. शव को जिसने भी देखा उसके रोंगटे खड़े हो गए. आखिर अस्पताल प्रशासन कैसे इतनी बड़ी लापरवाही कर सकता है ?.

पत्नी को हटानी पड़ी पति के शव से चीटियां

पति की मौत की खबर मिलते ही अस्पताल में मृतक के परिजन पहुंच गए. शव की दुर्दशा देखकर पत्नी फूट-फूट कर रोने लगी. पत्नी ने पति के शव में रेंग रही चीटियों को हटाना पड़ा. इस बीच रोती बिलखती महिला को वार्ड में भर्ती मरीजों के परिजनों ने संभाला.

courtsey- google images

शव की जरूरी औपचारिकताओं को पूरा कर महिला उसके पति के शव को अपने साथ ले गई. जानकारी के अनुसार मृतक का परिवार बेहद गरीब है. परिवार रोज की मजदूरी कर अपना गुजर बसर कर रहा था.

वहीं शव के संबंध में अस्पताल प्रशासन की लापरवाही पर प्रशासन की तरफ से जांच का आश्वसन दिया गया है. CMO डॉक्टर अर्जुन लाल शर्मा ने गंभीर मामला बताया है. इसके साथ ही उन्होंने भरोसा दिलाया है कि इस मामले की जांच कर आवश्यक कार्यवाई की जाएगी.

बताते चलें कि इससे पहले सूबे के इंदौर में ऑपरेशन के दौरान 11 लोगों की आंखों से रोशनी जानें का मामला भी सामने आया था. इस मामले में 5 लोगों को सस्पेंड कर दिया गया था.

jitendra pal: