Bulandshahr Priest Murder Case : बुलंदशहर में 2 साधुओं की हत्या पर सियासत तेज, प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर साधा निशाना

Bulandshahr Priest Murder Case : एक तरफ कोरोना वायरस से निपटने की व्यवस्थाओं को लेकर विपक्ष योगी सरकार को घेर रहा है. तो वहीं अब यूपी के बुलंदशहर में हुई 2 साधुओं की हत्या की वजह से यूपी में अपराध को लेकर योगी सरकार घरती नजर आ रही है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस महासचिव प्रिंयका गांधी ने भी मामले पर टिप्पणी की है।

अखिलेश यादव ने क्या कहा

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि बुलंदशहर में मंदिर परिसर (Bulandshahr Priest Murder Case) में दो साधुओं की नृशंस हत्या अति निंदनीय और दुखद हैं। इस प्रकार की हत्याओं का राजनीतिकरण न करके, इनके पीछे की हिंसक मनोत्ति के मूल कारण या आपराधिक कारण की गहरी तलाश करने की आवश्यकता होती है। इसी आधार पर समय रहते न्यायोचित कार्रवाई करनी चाहिए

प्रिंयका गांधी ने यूपी में अरपाध गिनाए

प्रियंका गांधी ने यूपी में हत्या की वारदातों को गिनाते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अप्रैल के पहले 15 दिनों में ही यूपी में सौ लोगों की हत्या हो गई। तीन दिन पहले एटा में पचौरी परिवार के 5 लोगों के शव संदिग्ध परिस्थितियों में पाए गए। कोई नहीं जानता उनके साथ क्या हुआ?

आज बुलंदशहर में एक मंदिर में सो रहे दो साधुओं को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया गया। ऐसे जघन्य अपराधों की गहराई से जांच होनी चाहिए और इस समय किसी को भी इस मामले (Bulandshahr Priest Murder Case) का राजनीतिकरण नहीं करना चाहिए। निष्पक्ष जांच करके पूरा सच प्रदेश के समक्ष लाना चाहिए। यह सरकार की ज़िम्मेदारी है।

Bulandshahr Priest Murder Case : क्या है बुलंदशहर साधु हत्याकांड

आपको बता दें कि यूपी के बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली के गांव पगोना में मंगलवार को मंदिर में सोते वक्त 2 साधुओं की निर्मम हत्या कर दी गई। दोनों ही साधु पिछले 10 सालों से मंदिर में रहते थे।

देर रात जिन्हें मौत के घाट उतार दिया गया। सुबह दोनों का शव मंदिर में पड़ा मिला। जिसके बाद लोगों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। स्थानीय लोगों ने साधुओं की हत्या पर विरोध जताया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए जांच के आदेश

स्थानीय लोगों का गुस्सा और मामले पर राजनीतिक रंग चढ़ता देख सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने मामले का संज्ञान लिया। सीएम योगी ने डीएम और एसएसपी को मामले (Bulandshahr Priest Murder Case) की पूरी जानकारी कर जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है। साथ ही दोषियों को जल्द गिरफ्तार करने के भी आदेश दिए हैं।

वहीं, एसएसपी का कहना है कि 2 दिन पहले एक नशेबाज ने साधु का चिमटा चुरा लिया था। जिसको लेकर साधु ने उसे काफी फटकार लगाई थी। इसी बात से नाराज शख्स चिढ़कर देर रात तलवार लेकिर मंदिर पहुंचा और साधुओं की हत्या कर दी।